REWA GOLIKAND NEWS : आरोपी ने कहा मेरा निशाना अचूक नही! मैंने तो गोली छुआई है….

Estimated read time 1 min read
Spread the love

REWA GOLIKAND NEWS : आरोपी ने कहा मेरा निशाना अचूक नही! मैंने तो गोली छुआई है….

Table of Contents

REWA GOLIKAND NEWS

रीवा(REWA):  जिले के सिविल लाइन थाना प्रभारी हितेंद्र नाथ शर्मा को उनके चेंबर में घुसकर उपनिरीक्षक बृजराज सिंह ने गोली मार दी, घायल थाना प्रभारी की हालत गंभीर बनी हुई है इस घटना के बाद पुलिस अमले में सन्नाटा पसरा हुआ है, आईजी से लेकर एसपी तक कुछ बोलने की स्थिति में नही हैं, गोली की घटना के बाद आरोपी बृजराज सिंह अपने को थाना प्रभारी के चेंबर में खुद को कैद कर लिया, बाहर से भी अब दरवाजा बंद कर लिया गया है लगभग 6 घंटे बीत जाने के बाद भी आरोपी को बाहर नहीं निकाला जा सका, भारी पुलिस बल थाना में तैनात है कड़ी चौकसी बरती जा रही है थाना के चेंबर में कैद आरोपी के पास में दो रिवाल्वर होने के कारण उसके पास तक जाने की हिम्मत कोई नहीं जुटा पा रहा है। आरोपी ने अधिकारियों से बात करने के लिए वायरलेस से मैसेज कर रहा है, इन पंक्तियों के लिखे जाने तक पुलिस कुछ भी कहने की स्थिति में नही है ! विवाद इस तरह बताया गया है की थाना प्रभारी हितेंद्र नाथ शर्मा से BR सिंह सीनियर था लेकिन शिविल लाइन थाना में वह JSI के पद पर पदस्थ था, यह पदस्थापना उसे नागवार लग रही थी आए दिन थाना प्रभारी के साथ वह बदतमीजी करता था, एक घटनाक्रम में इसी हफ्ते BR सिंह को SP ने लाइन अटैच क़र दिया, BR सिंह ने सोच लिया की हितेंद्र नाथ ने मुझे हटवा दिया इसी खुन्नस के चलते उसने आज थाना में घुस क़र थाना प्रभारी को गोली मार दी। घायल थाना प्रभारी का उपचार एक निजी अस्पताल में चल रहा है।

सिविल लाइन थाना प्रभारी को उप निरीक्षक ने मारी गोली
सिविल लाइन थाना प्रभारी को उप निरीक्षक ने मारी गोली

 

 

REWA POLITICAL NEWS : बघेलखण्ड के रीवा जिले की 8 विधानसभा सीटों में कांग्रेस का उम्मीदवार कौन होगा, जाने विस्तार से

REWA GOLIKAND NEWS: आरोपी की जुवानी

एक मीडिया कर्मी ने घटना की जानकारी मिलने के बाद बीआर सिंह को खुद फोन लगा लिया बीआर सिंह ने फोन उठाया बोला बोलिए मीडिया कर्मी ने पूछा जो कुछ बीआर सिंह ने बताया वह चौकाने वाला था, उसने बताया कि बीआर सिंह का निशाना अचूक नहीं हो सकता मैंने गोली नहीं मारी है सिर्फ गोली छुआई है। और बताया कि हमारे साथ अन्याय हुआ मुझे षड्यंत्र करके थाना से हटाक़र लाइन अटैच करा दिया गया, इसका जबाब मैने पुलिस अधीक्षक महोदय से मांगा हमें किस बात के लिए लाइन अटैच किया गया लेकिन पुलिस अधीक्षक ने इसका कोई जवाब नहीं दिया, इसके बाद बीआर सिंह का फोन स्विच ऑफ हो गया।

 

अन्य खबरे

यह भी पढ़े

+ There are no comments

Add yours